दूध, मिठाई और शगुन बांट कर भैया दूज का पर्व मनाया

दूध, मिठाई और शगुन बांट कर भैया दूज का पर्व मनाया
दूध, मिठाई और शगुन बांट कर भैया दूज का पर्व मनाया

समाज के अंतिम पायदान पर खडे लोगों को यदि ऐसी खुशियां बांटी जाती हैं तो कई गुना खुशी पैदा होती है और आत्मिक शांति तथा एक नई उर्जा का अहसास होता है- श्रीमती मंजू नागर

मौहम्मद इल्यास-’’दनकौरी’’/गौतमबुद्धनगर

दूध, मिठाई और शगुन बांट कर भैया दूज का पर्व मनाया गया। महाराजा एग्रो फूड प्राईवेट लिमिटेड की मैनेजिंग डायरेक्टर व समृद्धि नागर फाउंडेशन की चेयरमैन श्रीमती मंजू नागर तीज त्यौहार के मौके पर गरीब और बेसहारा लोगों को दूध, फल, चावल और यहां तक की भोजन वितरित कर खुशियां बांटती रही हैं। कोरोना महामारी के दौरान भी भूखे और गरीब व बेसहारा लोगों को भोजन और राशन बांटते हुए मानवता की मिशाल कायम की जा चुकी है। दीपावली के पंचदिवसाय पर्व की श्रंखला में भैया दूज के मौके पर महाराजा एग्रो फूड प्राईवेट लिमिटेड की मैनेजिंग डायरेक्टर व समृद्धि नागर फाउंडेशन की चेयरमैन श्रीमती मंजू नागर ने दूध, मिठाई और शगुन बांट कर भैया दूज का पर्व मनाया। समाजसेविका  और महाराजा एग्रो फूड प्राईवेट लिमिटेड की मैनेजिंग डायरेक्टर व समृद्धि नागर फाउंडेशन की चेयरमैन श्रीमती मंजू नागर ने बताया कि हाउस कीपिंग और सिक्योरिटी गार्ड हमेशा तीज त्यौहार में अपनी खुशियों से ज्यादा दूसरे लोगों के की सेवा में तत्पर रहते हैं।

नोएडा सेक्टर 128 के इलाके में सिक्योरिटी गार्ड और हाउसकीपिंग के लोगों को 1-1 किग्रा मदर डेयरी का दूध पैकेट, 1-1 किग्रा हल्दीराम की मिठाई के डिब्बे और शगुन के तौर पर 100-100 रूपये सैकडों लोगों को वितरित किए
नोएडा सेक्टर 128 के इलाके में सिक्योरिटी गार्ड और हाउसकीपिंग के लोगों को 1-1 किग्रा मदर डेयरी का दूध पैकेट, 1-1 किग्रा हल्दीराम की मिठाई के डिब्बे और शगुन के तौर पर 100-100 रूपये सैकडों लोगों को वितरित किए

ताकि यह सभी लोग भी त्यौहारांं की खुशियां मना सकें इसलिए नोएडा सेक्टर 128 के इलाके में सिक्योरिटी गार्ड और हाउसकीपिंग के लोगों को 1-1 किग्रा मदर डेयरी का दूध पैकेट, 1-1 किग्रा हल्दीराम की मिठाई के डिब्बे और शगुन के तौर पर 100-100 रूपये सैकडों लोगों को वितरित किए गए हैं। उन्होंने बताया कि समाज के अंतिम पायदान पर खडे लोगों को यदि ऐसी खुशियां बांटी जाती हैं तो कई गुना खुशी पैदा होती है और आत्मिक शांति तथा एक नई उर्जा का अहसास होता है। उन्होंने कहा कि आगे भी पर्व और त्यौहार विशेष पर इसी प्रकार से गरीब और बेसहारा लोगों को मद्द दिए जाने का अभियान जारी रहेगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate

can't copy

×
%d bloggers like this: