UPITS 2023 में नए भारत के ग्रोथ इंजन के शानदार प्रदर्शन की शुरुआत

राष्ट्रपति श्रीमती द्रौपदी मुर्मू द्वारा मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की गरिमामयी उपस्थिति में प्रथम यूपी ट्रेड शो का उद्घाटन किया गया
राष्ट्रपति श्रीमती द्रौपदी मुर्मू द्वारा मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की गरिमामयी उपस्थिति में प्रथम यूपी ट्रेड शो का उद्घाटन किया गया

आर्थिक कौशल, सांस्कृतिक समृद्धि और उद्यमशीलता के भव्य प्रदर्शन के साथ  उत्तर प्रदेश ने यूपी इंटरनेशनल ट्रेड शो (UPITS 2023) का अनावरण किया

Mohammad Ilyas-Dankauri/Greater Noida

उत्तर प्रदेश, भारत: ‘यूपी  इंटरनेशनल ट्रेड शो यूपी के विकास में एक मील का पत्थर साबित होगा’, ऐसा भारत की माननीय राष्ट्रपति श्रीमती द्रौपदी मुर्मू ने उत्तर प्रदेश के पहले व्यापार शो के उद्घाटन समारोह में कहा। आर्थिक कौशल, सांस्कृतिक समृद्धि और उद्यमशीलता के भव्य प्रदर्शन के साथ  उत्तर प्रदेश ने यूपी इंटरनेशनल ट्रेड शो (UPITS 2023) का अनावरण किया है। यह महत्वाकांक्षी व्यापार शो, भारत में किसी भी राज्य सरकार द्वारा की गई अपनी तरह की पहली पहल है, जिसने हाल के वर्षों में उत्तर प्रदेश द्वारा हासिल किए गए विभिन्न क्षेत्रों में शानदार विकास को प्रदर्शित करने के लिए मंच तैयार किया है। प्रतिष्ठित इंडिया एक्सपो सेंटर एंड मार्ट में आयोजित यह कार्यक्रम राज्य की परिवर्तनकारी यात्रा को देखने के इच्छुक लोगों के लिए आशा की किरण बन गया है। भारत की माननीय राष्ट्रपति श्रीमती द्रौपदी मुर्मू द्वारा मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की गरिमामयी उपस्थिति में प्रथम यूपी ट्रेड शो का उद्घाटन किया गया। औद्योगिक विकास मंत्री नंद गोपाल गुप्ता “नंदी, एमएसएमई मंत्री राकेश सचान ने माननीय राष्ट्रपति और मुख्यमंत्री के साथ मंच साझा किया। इस कार्यक्रम में पीडब्ल्यूडी मंत्री ब्रिजेश सिंह सहित उत्तर प्रदेश सरकार के प्रमुख कैबिनेट मंत्रियों की भी भागीदारी देखी गई जिनमें सांसद सूर्य प्रताप शाही, व्यावसायिक शिक्षा और कौशल विकास राज्य मंत्री कपिल देव अग्रवाल, जल शक्ति राज्य मंत्री दिनेश खटीक, बलिया नगर विधायक दयाशंकर सिंह, गौतम बुद्ध नगर विधायक महेश शर्मा सहित अन्य प्रतिष्ठित गणमान्य व्यक्ति शामिल हुए। सात पद्म पुरस्कार सम्मानित व्यक्तियों ने भी अपनी उपस्थिति से इस कार्यक्रम की शोभा बढ़ाई। माननीय राष्ट्रपति श्रीमती द्रौपदी मुर्मू ने अपने समापन भाषण में इतने भव्य ट्रेड शो के आयोजन के लिए माननीय मुख्यमंत्री योगी और उनकी पूरी टीम की सराहना की। उन्होंने कहा कि यह शो उत्तर प्रदेश के व्यापार और उद्योगों को एक वैश्विक मंच प्रदान करेगा। पिछले 6 वर्षों में यूपी ने देश की जीडीपी में उल्लेखनीय योगदान दिया है। साथ ही कहा कि वर्ष 2016-17 में यूपी की जीडीपी 13 लाख करोड़ थी जो वर्ष 2022-23 में 22 लाख करोड़ बढ़ने का अनुमान है और यह उपलब्धि निस्संदेह अभूतपूर्व है। ऐसे प्रयासों ने देश को दुनिया की 5वीं सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था बना दिया है और जल्द ही देश दुनिया की तीसरी सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था बन जाएगा। यूपी ने राज्य को 1 ट्रिलियन डॉलर की अर्थव्यवस्था बनाने का संकल्प लिया है और उम्मीद है कि यूपी देश को 5 ट्रिलियन डॉलर की अर्थव्यवस्था बनाने में और योगदान देगा। माननीय राष्ट्रपति ने कहा कि 96 लाख एमएसएमई के साथ राज्य में एमएसएमई की संख्या में यूपी चार्ट पर शीर्ष पर है। प्रदेश में निर्यात लगातार बढ़ रहा है और यह वर्ष 2017-18 के 88 हजार करोड़ से बढ़कर 2022-23 में 1.75 लाख करोड़ हो गया है। उन्होंने विश्वास जताया कि यह शो यूपी के विकास में मील का पत्थर साबित होगा।

उत्तर प्रदेश के पहले व्यापार शो के उद्घाटन समारोह
उत्तर प्रदेश के पहले व्यापार शो के उद्घाटन समारोह

माननीय मुख्यमंत्री श्री योगी आदित्यनाथ ने अपने वक्तव्य में शो में आने के लिए माननीय राष्ट्रपति जी का आभार व्यक्त किया। उन्होंने कहा कि यह ट्रेड शो यूपी सरकार द्वारा पिछले छह वर्षों में पीएम मोदी के मार्गदर्शन में व्यापार, व्यवसाय और उद्योगों को बढ़ावा देने के लिए किये गये प्रयासों का प्रतीक है। साथ ही कहा, चूंकि यह पहला अंतरराष्ट्रीय व्यापार शो है इसलिए इसे आयोजित करने में हमारे सामने चुनौतियां थीं लेकिन हमने उन्हें पार कर लिया। उन्होंने कहा कि पीएम मोदी से प्रेरित होकर हम यूपी को बीमारु राज्य से विकसित राज्य बनाने की दिशा में आगे बढ़े और एक विकसित अर्थव्यवस्था बनने की ओर अग्रसर हुए। आर्थिक विकास के मामले में उत्तर प्रदेश का यह परिवर्तन इस ट्रेड शो के रूप में स्पष्ट रूप से दिखाई देता है। हमने पहले ही यूपी के पारंपरिक व्यापार और शिल्प को बढ़ावा देने के लिए ओडीओपी जैसी कई योजनाएं शुरू की थीं, जिन्हें पीएम मोदी ने अब विश्वकर्मा योजना के रूप में शुरू किया है। हमने अपने छोटे व्यापारियों और एमएसएमई को बढ़ावा दिया है जिसके परिणामस्वरूप व्यापार शो के लिए 70,000 से अधिक बी2बी खरीदारों का पंजीकरण हुआ है। ये नये भारत का नया उत्तर प्रदेश है जिसने अपनी क्षमता को पहचाना है। यह न केवल व्यापार के लिए बल्कि सबसे बड़े बाजार बल्कि उपभोक्ता बाजार और श्रम बाजार के रूप में भी उभरा है। इसने अपने स्केल को स्किल में बदलकर अपनी क्षमता दिखायी है। उन्होंने कहा कि उनका मानना ​​है कि यह ट्रेड शो पीएम मोदी की आकांक्षा के अनुरूप राज्य के विकास इंजन के रूप में भारत की अर्थव्यवस्था का प्रतिनिधित्व करेगा। एमएसएमई मंत्री . राकेश सचान ने अपने भाषण में कहा कि यह आयोजन अपनी तरह का अनोखा ट्रेड शो है, जिसमें यूपी के कोने-कोने से विभिन्न क्षेत्रों के लोग हिस्सा लेकर अपने उत्पादों का प्रदर्शन कर रहे हैं।

 प्रधान मंत्री  नरेंद्र मोदी और उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के दूरदर्शी नेतृत्व में  राज्य भारत का विकास इंजन बनने की अविश्वसनीय यात्रा पर निकल पड़ा
प्रधान मंत्री  नरेंद्र मोदी और उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के दूरदर्शी नेतृत्व में  राज्य भारत का विकास इंजन बनने की अविश्वसनीय यात्रा पर निकल पड़ा

पहले व्यापार शो केवल कुछ क्षेत्रों के प्रदर्शन तक ही सीमित थे, लेकिन इस बार व्यापार शो में रक्षा, कृषि, ई-कॉमर्स, उद्योग, शिक्षा, डेयरी, मत्स्य पालन, कपड़ा, हथकरघा, जीआई उत्पाद सहित सभी क्षेत्र भाग ले रहे हैं। राज्य में कारीगरों, छोटे व्यापारियों और व्यवसायों के उत्थान के लिए माननीय मुख्यमंत्री  के मार्गदर्शन में 2018 में ओडीओपी योजना और 2019 में विश्वकर्मा योजना शुरू करने के बाद पीएम मोदी द्वारा पूरे देश में विश्वकर्मा श्रम सम्मान योजना शुरू की गई है। इस कार्यक्रम में माननीय राष्ट्रपति जी ने 300 महिला उद्यमियों के साथ बात की और उनके स्टॉल का भी दौरा किया। प्रधान मंत्री  नरेंद्र मोदी और उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के दूरदर्शी नेतृत्व में  राज्य भारत का विकास इंजन बनने की अविश्वसनीय यात्रा पर निकल पड़ा है। यूपीआईटीएस 2023, एक अनूठा बी2बी और बी2सी शो है और उन विभिन्न क्षेत्रों को उजागर करने के लिए मंच के रूप में कार्य करता है जो सामूहिक रूप से उत्तर प्रदेश की विकास में योगदान करते हैं और उन सभी को वैश्विक मान्यता और सहयोग के लिए एक छत के नीचे लाने का प्रयास है। व्यापार और व्यवसाय के अतिरिक्त यह कार्यक्रम उत्तर प्रदेश की समृद्ध संस्कृति की झलक भी पेश करता हैं। ट्रेड शो के उद्घाटन दिवस पर उपस्थित लोगों ने श्री अमित मिश्रा के सुगम संगीत सहित सांस्कृतिक प्रस्तुतियों का आनंद लिया। साथ ही सौरव मिश्रा और गौरव मिश्रा की प्रसिद्ध कत्थक जोड़ी द्वारा एक मनोरम शिव तांडव कथक नृत्य का आनंद लिया। इसके अलावा, पारंपरिक उत्तर प्रदेश व्यंजन और अंतरराष्ट्रीय व्यंजनों वाले खाद्य काउंटर पर यूपी के जायकों का स्वाद लिया। यूपी इंटरनेशनल ट्रेड शो 2023 सिर्फ एक व्यापार प्रदर्शनी से कहीं अधिक है, यह उत्तर प्रदेश की पुनर्जीवित भावना का एक प्रमाण है, एक ऐसा राज्य जो भारत की अर्थव्यवस्था और सांस्कृतिक विरासत के भविष्य को आकार देने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाने के लिए तैयार है। यूपीआईटीएस 2023 नए भारत का विकास इंजन बनने की राह पर समृद्धि, नवाचार और वैश्विक सहयोग के प्रतीक के रूप में कार्य करेगा।

 

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate

can't copy

×
%d bloggers like this: