गौतमबुद्धनगर में डा0 महेश शर्मा को संजीवनी दे गए अमित शाह

केंद्रीय गृहमत्री गौतमबुद्धनगर आए और पूर्व केंद्रीय मंत्री व गौतमबुद्धनगर के सासंद डा0 महेश शर्मा को इशारों इशारो में ही शाबासी दे तक दे गए
केंद्रीय गृहमत्री गौतमबुद्धनगर आए और पूर्व केंद्रीय मंत्री व गौतमबुद्धनगर के सासंद डा0 महेश शर्मा को इशारों इशारो में ही शाबासी दे तक दे गए

डा0 महेश शर्मा के टिकट कटने की ऐसे फैल रही थी, अफवाह

मौहम्मद इल्यास-’’दनकौरी’’/गौतमबुद्धनगर

गौतमबुद्धनगर के सांसद व पूर्व केंद्रीय मंत्री डा0 महेश शर्मा को भाजपा की ओर से संजीवनी मिल गई है। संजीवनी देने वाले और कोई नही बल्कि मोदी सरकार में दूसरे नंबर की ताकत खुद केंद्रीय मंत्री अमित शाह हैं। शुक्रवार को केंद्रीय गृहमत्री गौतमबुद्धनगर आए और पूर्व केंद्रीय मंत्री व गौतमबुद्धनगर के सासंद डा0 महेश शर्मा को इशारों इशारो में ही शाबासी दे तक दे गए। इससे डा0 महेश शर्मा के राजनीति धुर विरोधियों की जबान एक तरह से बंद सी हो गई हैं। कुछ दिन पहले चर्चा फैली थी कि पूर्व केंद्रीय मंत्री व गौतमबुद्धनगर के सांसद डा0 महेश शर्मा का टिकट इस दफा भाजपा से कट रहा है और वे अपनी राजनीतिक जमीन को कायम रखने के लिए विपक्षी मोर्चा जो कि आगामी लोकसभा चुनाव-2024 की तैयारियों के मद्देनजर इंडिया नाम से बनाया गया है, उससे चुनाव लडने की जुगत भिडा रहे हैं। इस खबर के फैलते ही डा0 महेश शर्मा की बैचनी बढनी लाजिमी थी। मोदी सरकार में दूसरी बडी ताकत माने जाने वाले केंद्रीय मंत्री अमित शाह आज शुक्रवार को गौतमबुद्धनगर के ग्रेटर नोएडा शहर में सीआरपी ग्रुप सेंटर सुत्याना में आए थे। एक ओर केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह ने पौधारोपण अभियान में 4 करोड़वां पौधा रोपकर एक नया इतिहास बनाया है। सरकारी कार्यक्रम के बाद नोएडा से वापस दिल्ली जाते जाते गृहमंत्री अमित शाह एक बड़ा राजनीतिक संदेश भी दे गए। इस पौधारोपण के बाद वें नोएडा के सेक्टर 1 में स्थित कृभको भवन गए। कृभको तक उनका सरकारी दौरा था। वहां से वें निजी दौरे पर लंच करने नोएडा गौतमबुद्धनगर के सांसद डा0 महेश शर्मा के सेक्टर 15 ए स्थित आवास पर गए। उनके इस निजी लंच कार्यक्रम से बड़ा राजनीतिक संदेश सामने आया है। केंद्रीय गृहमंत्री ने नोएडा के सांसद डा0 महेश शर्मा के आवास पर दोपहर का भोजन किया। सांसद के आवास पर ही गृहमंत्री ने गौतमबुद्धनगर व वेस्ट यूपी के सभी प्रमुख भाजपा के नेताओं से भी मुलाकात की। राजनीतिक विश्लेषकों का दावा है कि लंच के इस कार्यक्रम ने ढेर सारी अफवाहों पर विराम लगा दिया है। अब अफवाहबाज नेताओं के लिए अफवाह फैलाने के सारे अवसर समाप्त हो गए हैं। विश्लेषक दावा कर रहे हैं कि इस लंच ने उन लोगों की भी आंख खोल दी है जो दूसरे दलों से भाजपा में घुसकर गुटबाजी में लगे हुए हैं।

 ऐसे फैल रही थी, अफवाह—डा0 महेश शर्मा का टिकट कट जाएगा और किसी एक ब्यरोक्रेट को भाजपा का टिकट मिल जाएगा

निजी दौरे पर लंच करने नोएडा गौतमबुद्धनगर के सांसद डा0 महेश शर्मा के सेक्टर 15 ए स्थित आवास पर गए
निजी दौरे पर लंच करने नोएडा गौतमबुद्धनगर के सांसद डा0 महेश शर्मा के सेक्टर 15 ए स्थित आवास पर गए

इन अफवाहबाजों का कहना था कि सरकारी अफसरी के दौरान नए नए धनपति बने कुछ ब्यूरोक्रेट्स नोएडा -गौतमबुद्धनगर-से लोकसभा चुनाव लड़ने के लिए भाजपा के टिकट के प्रबल दावेदार हैं। केंद्रीय मंत्री राजनाथ सिंह से लेकर दूसरे तमाम नेताओं के साथ ब्यूरोक्रेट्स के रिश्ते की दुहाई देकर कहा जा रहा था कि सांसद डा0 महेश शर्मा का टिकट कट जाएगा और किसी एक ब्यरोक्रेट को भाजपा का टिकट मिल जाएगा। केंद्रीय गृहमंत्री ने अपने पसंदीदा सांसद डाण् महेश शर्मा के आवास पर श्लंचश् करके इन सारी अफवाहों पर विराम लगा दिया है। नोएडा के सांसद डा0 महेश शर्मा के आवास पर गृहमंत्री अमित शाह के पहुंचने के दौरान बड़ा ही सुखद नजारा देखने को मिला। भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष भूपेंद्र चौधरी की अगुवाई में भाजपा में पश्चिमी उत्तर प्रदेश की राजनीति करने वाले सारे नेता मौजूद थे। इन नेताओं में भाजपा पश्चिमी उत्तर प्रदेश के अध्यक्ष सतेंद्र सिसौदिया, राज्य सभा सांसद सुरेंद्र नागर, नोएडा विधानसभा क्षेत्र से भाजपा के विधायक व पार्टी नेता पंकज सिंह, दादरी के विधायक तेजपाल सिंह नागर, खुर्जा की विधायक श्रीमती मीनाक्षी सिंह, बुलंदशहर के विधायक प्रदीप चौधरी, गौतमबुद्धनगर के जिला पंचायत अध्यक्ष अमित चौधरी, बुलंदशहर की जिला पंचायत अध्यक्ष श्रीमती अंतुल तेवतिया, भाजपा के नोएडा के महानगर अध्यक्ष मनोज गुप्ता, भाजपा के जिलाध्यक्ष विजय भाटी समेत सभी प्रमुख नेता मौजूद थे। केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह के सांसद डा0 महेश शर्मा के आवास पर आगमन के दौरान जेवर क्षेत्र से भाजपा विधायक धीरेंद्र सिंह नदारद थे। भाजपा के अंतरंग सूत्रों का दावा है कि विधायक धीरेंद्र सिंह को आमंत्रित ही नहीं किया गया था। पार्टी के दिग्गज नेता के कार्यक्रम में क्षेत्र व जिले के सब नेता थे केवल एक विधायक वहां नहीं थे। यह बात राजनीतिक हलकों में चर्चा का विषय बन गई है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate

can't copy

×
%d bloggers like this: