मोटोजीपी आयोजकों के साथ गौतम बुद्ध विश्वविद्यालय में बैठक

गौतम बुद्ध यूनिवर्सिटी (जीबीयू) ने इस क्षेत्र के विकास और युवाओं के लिए रोजगार तथा सीखने के साधन उपलब्ध कराने के मकसद से मंगलवार को एक मंच पर आने का फैसला किया
गौतम बुद्ध यूनिवर्सिटी (जीबीयू) ने इस क्षेत्र के विकास और युवाओं के लिए रोजगार तथा सीखने के साधन उपलब्ध कराने के मकसद से मंगलवार को एक मंच पर आने का फैसला किया

जेवर विधानसभा में “मोटो जीपी जैसा अंतरराष्ट्रीय आयोजन गौरव की बात– धीरेंद्र सिंह

       Vision Live/ Greater Noida

भारत में पहली बार आयोजित होने जा रहे मोटोजीपी भारत रेस के भारतीय प्रमोटर्स-फेयरस्ट्रीट स्पोर्ट्स और जेवर स्थित गौतम बुद्ध यूनिवर्सिटी (जीबीयू) ने इस क्षेत्र के विकास और युवाओं के लिए रोजगार तथा सीखने के साधन उपलब्ध कराने के मकसद से मंगलवार को एक मंच पर आने का फैसला किया। जीबीयू सितंबर के अंतिम सप्ताहांत में होने वाली इस बहुप्रतीक्षित रेस के लिए पार्टनर यूनिवर्सिटी के तौर पर मोटोजीपी भारत से जुड़ गया है। प्रोफेसर सिन्हा ने इस इवेंट का स्वागत करते हुए इसे सफल बनाने को लेकर अपनी प्रतिबद्धता जाहिर करते हुए कहा कि – “भारत का एकमात्र विश्व स्तरीय रेसिंग ट्रैक का जेवर में होना हमारे लिए सम्मान की बात है। गौतम बुद्ध यूनिवर्सिटी भी जेवर मे है और इसी कारण हमारे लिए एक ऐसी रेस के माध्यम से काफी कुछ सीखने और युवाओं को जागरूक करने का मौका है। इसके माध्यम से हम युवाओं को एक ऐसा प्लेटफार्म दे सकते हैं, जो उन्हें आगे बढ़ने में मदद करेगा। हमारा इस इवेंट से जुड़ने का मतलब यह होगा कि हमारे यहां से चुने गए 50 सर्वश्रेष्ठ छात्रों को रेस बिल्डअप और एक वैश्विक स्तर की रेस को सफल बनाने वाली हर चीज का अनुभव करने का अवसर मिल सकेगा।इस साझेदारी से यूनिवर्सिटी के छात्रों के लिए चहुंमुखी विकास का रास्ता खुलेगा।” दूसरी ओर, जेवर, जहां इस इवेंट का आयोजन स्थल-बुद्ध इंटरनेशनल सर्किट (बीआईसी) स्थित है, के विधायक धीरेंद्र सिंह ने मोटोजीपी भारत को एक बहुत बड़ा आयोजन करार देते हुए कहा कि इससे जेवर क्षेत्र में आर्थिक और युवा विकास को बढ़ावा मिलेगा। मोटोजीपी भारत द्वारा पैदा किए जा रहे रोजगार के अवसरों के बारे में बहुमूल्य जानकारी देते हुए कहा कि आने वाले वर्षों में भी रोजगार पैदा करने की दिशा में इस रेस का असर जारी रहेगा।

 धीरेंद्र सिंह ने आगे कहा कि, "इस आयोजन का संभावित प्रभाव युवाओं को सशक्त बनाने और अवसरों तक उन्हें पहुंच प्रदान करने की दिशा में होगा
धीरेंद्र सिंह ने आगे कहा कि, “इस आयोजन का संभावित प्रभाव युवाओं को सशक्त बनाने और अवसरों तक उन्हें पहुंच प्रदान करने की दिशा में होगा

धीरेंद्र सिंह ने आगे कहा कि, “इस आयोजन का संभावित प्रभाव युवाओं को सशक्त बनाने और अवसरों तक उन्हें पहुंच प्रदान करने की दिशा में होगा। साथ ही साथ इस आयोजन के बाद इसका अधिकतम लाभ लेने के रास्ते खोजने पर किया जाएगा। हमारे लिए यह गर्व की बात है कि इतनी बड़ी रेस हमारे यहां आयोजित होने जा रही है, जिसमें दुनिया भर के कई दिग्गज मोटरसाइकिल चालक अपने फन का लोहा मनवाएंगे। हमारे युवाओं को यह रेस देखने और इससे काफी कुछ सीखने और आगे बढ़ने का शानदार मौका मिलेगा। मैं रेस प्रमोटर्स फेयरस्ट्रीट स्पोर्ट्स से गुजारिश करूंगा कि वे इस क्षेत्र में रोजगार के साधन कैसे पैदा किए जा सकें, इस दिशा में सोचें। युवाओं का विकास हमारे प्रधानमंत्री और मुख्यमंत्री जी का सर्वोपरि एजेंडा है। गौतम बुद्ध यूनिवर्सिटी के साथ अपनी सफल साझेदारी को देखते हुए फेयरस्ट्रीट स्पोर्ट्स ने मोटोजीपी पर जोर देने के साथ मोटोस्पोर्ट्स मैनेजमेंट पर शॉर्ट टर्म कोर्स शुरू करने का भी प्रस्ताव रखा। इससे आने वाले वर्षों में युवाओं को जेवर क्षेत्र से संगठित किया जा सके और इस क्षेत्र के लिए बड़े पैमाने पर आर्थिक सक्रियता पैदा की जा सके। उल्लेखनीय है कि मोटोजीपी भारत में लगभग 40 टीमें भाग लेंगी, जिसमें 80 राइडर्स शामिल होंगे। इन राइडर्स में मार्क मार्केज, फ्रांसेस्को बगानिया जैसी शानदार प्रतिभाओं के साथ-साथ कई अन्य प्रमुख नाम शामिल हैं। यह भव्य इवेंट 22 से 24 सितंबर तक जेवर विधानसभा में स्थित बुद्ध इंटरनेशनल सर्किट में होगा ।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate

can't copy

×
%d bloggers like this: