एचसीएल फाउंडेशन ने ग्रेटर नोएडा को स्वच्छ बनाने के लिए बढ़ाया हाथ

ग्रेटर नोएडा की स्वच्छता मुहिम को आगे बढ़ाने के लिए एचसीएल फाउंडेशन ने प्राधिकरण से हाथ मिलाया
ग्रेटर नोएडा की स्वच्छता मुहिम को आगे बढ़ाने के लिए एचसीएल फाउंडेशन ने प्राधिकरण से हाथ मिलाया

ग्रेटर नोएडा प्राधिकरण और एचसीएल फाऊंडेशन के बीच तीन साल के लिए हुआ करार

फाउंडेशन कंट्रोल एंड कमांड सेंटर बनाएगा, एमआरएफ सेंटर को चलाने के लिए फंड देगा

सीईओ व एसीईओ की मौजूदगी मेें ओएसडी ने फाउंडेशन के साथ करार पर साइन किए

Vision Live/ Greater Noida

ग्रेटर नोएडा प्राधिकरण के सीईओ एनजी रवि कुमार और एसीईओ मेधा रूपम की मौजूदगी में ओएसडी रजनीकांत पांडेय ने एचसीएल फाउंडेशन के साथ करार पर हस्ताक्षर किए
ग्रेटर नोएडा प्राधिकरण के सीईओ एनजी रवि कुमार और एसीईओ मेधा रूपम की मौजूदगी में ओएसडी रजनीकांत पांडेय ने एचसीएल फाउंडेशन के साथ करार पर हस्ताक्षर किए

ग्रेटर नोएडा की स्वच्छता मुहिम को आगे बढ़ाने के लिए एचसीएल फाउंडेशन ने प्राधिकरण से हाथ मिलाया है। बुधवार को ग्रेटर नोएडा प्राधिकरण के सीईओ एनजी रवि कुमार और एसीईओ मेधा रूपम की मौजूदगी में ओएसडी रजनीकांत पांडेय ने एचसीएल फाउंडेशन के साथ करार पर हस्ताक्षर किए। कॉरपोरेट सोशल रेस्पोंसबिलिटी के अंतर्गत एचसीएल फाउंडेशन “मेरा स्वच्छ शहर“ अभियान के अंतर्गत अगले तील साल तक ग्रेटर नोएडा शहर को कूड़ा मुक्त बनाने के लिए निवासियों को जागरूक करने में सहयोग करेगा। इस मुहिम को प्रभावी ढंग से क्रियान्वित करने के लिए ग्रेटर नोएडा में एक कमांड एंड कंट्रोल सेंटर भी बनाएगा। साथ ही इकोटेेक-12 स्थित एमआरएफ सेंटर को मशीनरी लगाकर कर संचालित करने में वित्तीय सहयोग भी करेगा।

दरअसल, ग्रेटर नोएडा प्राधिकरण शहर को साफ-सुथरा बनाने के लिए स्वच्छता अभियान चला रहा है। जनरेटरों को सॉलिड वेस्ट मैनेजमेंट के नियमों को लागू कर सभी बल्क वेस्ट जनरेटरों से कूड़े को प्रोसेस कराया जा रहा है। गांवों व सेक्टरों में डोर टू डोर कलेक्शन सिस्टम लागू किया गया है। गीले और सुखी कूड़े को सेग्रिगेट कर प्रोसेस किया जा रहा है। प्राधिकरण और एचसीएल फाउंडेशन ने मिलकर अब इस अभियान से ग्रेटर नोएडावासियों को जोड़ते हुए जागरुकता अभियान चलाने का निर्णय लिया है।

बोर्ड रूम में ग्रेटर नोएडा प्राधिकरण के सीईओ एनजी रवि कुमार और एसीईओ मेधा रूपम की मौजूदगी में ओएसडी रजनीकांत पांडेय और एचसीएल फाउंडेशन के प्रोजेक्ट डायरेक्टर आलोक वर्मा ने एमओयू पर हस्ताक्षर किए
बोर्ड रूम में ग्रेटर नोएडा प्राधिकरण के सीईओ एनजी रवि कुमार और एसीईओ मेधा रूपम की मौजूदगी में ओएसडी रजनीकांत पांडेय और एचसीएल फाउंडेशन के प्रोजेक्ट डायरेक्टर आलोक वर्मा ने एमओयू पर हस्ताक्षर किए

इसी कड़ी में बुधवार को प्राधिकरण के बोर्ड रूम में ग्रेटर नोएडा प्राधिकरण के सीईओ एनजी रवि कुमार और एसीईओ मेधा रूपम की मौजूदगी में ओएसडी रजनीकांत पांडेय और एचसीएल फाउंडेशन के प्रोजेक्ट डायरेक्टर आलोक वर्मा ने एमओयू पर हस्ताक्षर किए। इस जागरुकता अभियान के अंतर्गत एचसीएल फाउंडेशन गीले और सूखे कूड़े को अलग रखने, उसे प्रोसेस करने, इधर-उधर कूड़ा न फेंकने, कूड़े से होने वाली बीमारियों और उनसे बचाव के उपाय आदि के प्रति जागरूक करने के लिए प्राधिकरण और एचसीएल फाउंडेशन जागरुकता अभियान चलाएंगे। फाउंडेशन की टीम सेक्टरों, गांवों व वाणिज्यिक प्रतिष्ठानों में जाकर लोगों को जागरूक करेगी। इसके साथ ही यूएनडीपी और एचडीएफसी बैंक द्वारा सेक्टर ईकोटेक-12 में निर्मित एमआरएफ सेंटर को एचसीएल फाउंडेशन मशीनरी लगाने के लिए फंड उपलब्ध कराएगा। प्राधिकरण के सीईओ एनजी रवि कुमार ने एचसीएल फाउंडेशन से ग्रेटर नोएडा के किसी एक गांव को मॉडल गांव के रूप में विकसित करने का लक्ष्य दिया है, जिसमें न सिर्फ स्वच्छता के उच्च मानक स्थापित हों, बल्कि अन्य सभी सुविधाएं भी उपलब्ध हों। उन्होंने फाउंडेशन को प्राधिकरण की तरफ से हर संभव सहयोग देने का आश्वासन दिया। बुधवार को प्राधिकरण और एचसीएल फाउंडेशन के बीच करार के समय प्राधिकरण के ओएसडी सौम्य श्रीवास्तव, वरिष्ठ प्रबंधक उत्सव निरंजन के अलावा एचसीएल फाउंडेशन से डॉ निधि पुंडीर, रिति मल्होत्रा व ईवाई के प्रतिनिधि विपुल गुलाटी समेत अन्य प्रतिनिधि मौजूद रहे।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate

can't copy

×
%d bloggers like this: