शंका समाधान– अन्नकूट, बलिपूजा, गोवर्धन पूजा

आचार्य अशोकानंद जी महाराज 
आचार्य अशोकानंद जी महाराज

अन्नकूट, बलिपूजा, गोवर्धन पूजा-

            यदि प्रतिपदा को चन्द्रोदय होता हो तो अन्नकूट, बलिपूजा, गोवर्धन पूजा आदि नहीं किया जाता है। परन्तु यहाँ स्थूल चन्द्र दर्शन को मान्यता दी गई है। यदि प्रतिपदा 1 मुहुर्त या इससे अधिक है तो चाहे चन्द्र दर्शन हो जाए, परन्तु स्थूल चन्द्र दर्शन न मानकर इसी दिन अन्नकूट, बलिपूजा, गोवर्धन पूजा करनी चाहिए। इस वर्ष कार्तिक शुक्ल पक्ष की प्रतिपदा 1 मुहुर्त से अधिक है, इससे कार्तिक शुक्ल पक्ष प्रतिपदा मंगलवार 14-11-2023 ई० को ही अन्नकूट, बलिपूजा, गोवर्धन पूजा मनाई जाएगी।

भाई दूज– कार्तिक शुक्ल पक्ष की दूज दोनों दिन अपराह्न व्यापिनी हो तो दूसरे दिन ही भाई दूज एवं यम द्वितीया मनाई जाती है। इस वर्ष कार्तिक शुक्ल पक्ष दूज दोनों दिन अपराह्न व्यापिनी है, इससे दूसरे दिन अर्थात् कार्तिक शुक्ल पक्ष दूज बुधवार तारीख 15-11-2023 को ही भाई दूज एवं यम द्वितीया मनाई जायेगी।

महामंडलेश्वर

आचार्य अशोकानंद जी महाराज 

पीठाधीश्वर (बिसरख धाम )

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate

can't copy

×
%d bloggers like this: