जीएल बजाज का इण्डिया विजन फाउण्डेशन के साथ समझौता

जीएलबीएमआईआर की निदेशिका डॉ० सपना राकेश
जीएलबीएमआईआर की निदेशिका डॉ० सपना राकेश

Vision Live/Greater Noida

जीएल बजाज इन्स्टीट्यूट ऑफ मैनेजमेण्ट एण्ड रिसर्च पीजीडीएम इन्स्टीट्यूट (जीएलबी आईएमआर) ने इण्डिया विजन फाउण्डेशन नई दिल्ली (गैर सरकारी संगठन) के साथ एक समझौता ज्ञापन किया। इस समझौते के तहत जीएलबीआईएमआर संस्थान इण्डिया विजन फाउण्डेशन के सहयोग से जेल के कैदियों के लिए कौशल विकास कार्यक्रम डिजाइन एवं वितरित करेगा जिसका उद्देश्य उन्हें विपणन योग्य कौशल में दक्ष करना है, जो उनके जेल से रिहाई के उपरान्त समाज में उनके सामान्य जीवन की सभावनाओं को बढ़ाएगा। इसके अतिरिक्त जीएल बजाज संस्थान जेल अधिकारियों के लिए कौशल विकास एवं क्षमता निर्माण के उद्देश्य से प्रशिक्षण कार्यक्रम और कार्यशाला सत्र आयोजित करेगा। पूर्व गर्वनर पुचेरी एवं प्रथम महिला आईपीएस डॉ० किरण बेदी द्वारा 1994 में स्थापित इण्डिया विजन फाउण्डेशन पुलिस व जेल सुधार और महिला सशक्तिकरण में अपनी सेवाए निरन्तर देती आ रही है।

इण्डिया विजन फाउण्डेशन के सहयोग से जेल के कैदियों के लिए कौशल विकास कार्यक्रम डिजाइन एवं वितरित करेगा
इण्डिया विजन फाउण्डेशन के सहयोग से जेल के कैदियों के लिए कौशल विकास कार्यक्रम डिजाइन एवं वितरित करेगा

जीएलबीएमआईआर की निदेशिका डॉ० सपना राकेश ने जानकारी साझा करते हुए कहा कि संस्थान की सीएसआर सेल अपने निगमित सामाजिक उत्तरदायित्व के तहत समय-समय पर सामाजिक कार्यों में अपना सहयोग प्रदान करती है। संस्थान के इस तरह के आयोजनों का उद्देश्य छात्रों में सामाजिक कार्यों के प्रति जागरूकता एवं प्रतिबद्धता की भावना का विकास करना है ताकि ये अपनी सामाजिक जिम्मेदारियों को जान व समझ सके एवं देश के सामाजिक उत्थान में भागीदार बने

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate

can't copy

×
%d bloggers like this: